कहां पाक कहां हम: जितने कर्ज के लिए तरसता है पाकिस्तान, उससे ज्यादा फंडिंग पा रहे हैं भारतीय स्टार्टअप

0
5


जितने कर्ज के लिए तरसता है पाकिस्तान, उससे ज्यादा फंडिंग उठा रहे हैं भारतीय स्टार्टअप 

हमारे पड़ोसी पाकिस्तान की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है। अरबों डॉलर के कर्ज के बाद भी देश में महंगाई चरम पर है। अपने कर्जों को उतारने के लिए भी पाकिस्तान को और कर्ज लेना पड़ रहा है। हाल ही में पाकिस्तान की तमाम मिन्नतों के बाद आईएमएफ ने पाकिस्तान को 50 करोड़ डॉलर का कर्ज मंजूर किया है। वहीं दूसरी ओर इतनी रकम भारतीय स्टार्टअप सिर्फ एक साल में ही कमा ले रहे हैं। 

भारत में शॉर्ट वीडियो एप से जुड़े स्टार्टअप शेयरचैट ने गुरुवार को कहा कि उसने लाइट्सस्पीड वेंचर पार्टनर्स और टाइगर ग्लोबल की अगुवाई में 50.2 करोड़ डॉलर (करीब 3,725 करोड़ रुपये) जुटाए हैं। स्वदेशी सोशल मीडिया मंच ने बताया कि इस वित्त पोषण के लिए उसका मूल्यांकन 2.1 अरब डॉलर था। स्नैप इंक (जिसके पास फोटो मैसेजिंग ऐप स्नैपचैट का स्वामित्व है) और मौजूदा निवेशकों ट्विटर, इंडिया कोटिएंट और अन्य ने मोहल्ला टेक के वित्त पोषण के ताजा दौर में भाग लिया। मोहल्ला टेक शेयरचैट और शॉर्ट वीडियो ऐप मौज की पैरेंट कंपनी है।

पढ़ें-  भारत के सभी बैंकों के लिए आ गई ये सिंगल एप, ICICI बैंक ने किया कमाल

पढ़ें- ATM मशीन को बिना छुए निकाल सकते हैं पैसा, इस सरकारी बैंक ने शुरू की सुविधा

यूनिकॉर्न बनी कंपनी 

ताजा निवेश के साथ शेयरचैट बीते एक सप्ताह में 5वीं कंपनी है जिसे निवेशकों की ओर से एक अरब डॉलर का वैल्युएशन प्राप्त हुआ है। इसके साथ ही यह भारतीय टेक-स्टार्टअप 2021 की 9वीं यूनिकॉर्न बन गई है। क्षेत्रीय भाषा के सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म के नए फ़ंडिंग राउंड का उपयोग उसके लघु वीडियो प्लेटफ़ॉर्म मौज के लिए किया जाएगा। मौज को कंपनी ने पिछले साल जुलाई में भारत में चीनी वीडियो ऐप TikTok के प्रतिबंध के ठीक बाद लॉन्च किया था। वर्तमान में, शेयरचैट के पास 160 मिलियन से अधिक मासिक उपयोगकर्ता होने का दावा है। Moj के पास 120 मिलियन मासिक सक्रिय यूजर्स होने का दावा है।

पढ़ें-   यहां FASTAG है बेकार! इस एप के बिना नहीं मिलेगी Yamuna Expressway पर एंट्री

पढ़ें- भारतीय कंपनी Detel ने पेश किया सस्ता इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर, जबर्दस्त हैं खूबियां

पैसे पैसे को मोहताज है पाकिस्तान

पैसे की भारी कमी से जूझ रहा पाकिस्तान विदेशी संस्थाओं से लगातार कर्ज लेता जा रहा है। पिछले तीन दिनों के अंदर पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष और विश्व बैंक से करीब 130 अरब रुपये का लोन लिया है। वहीं इसके बाद आईएमएफ ने पाकिस्तान को 500 मिलियन डॉलर (36,22,37,00,000 रुपये) का कर्ज देने का ऐलान किया था। साथ ही पाकिस्तान और विश्वबैंक के बीच 1.3 बिलियन डॉलर के नए कर्ज पर सहमति बनी है। पहले से ही हर पाकिस्तानी नागरिक के ऊपर 1 लाख 75 हजार रुपये का कर्ज चढ़ा हुआ है





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here